Loan Kitne Prakar Ke Hote Hain: जानें विभिन्न प्रकार के लोन

author Ankita Content Writer

क्या आप जानते है की अब आपको अपनी जरूरतों को पूरा करने के लिए सालों तक इंतज़ार करने की बिलकुल भी जरुरत नहीं है? जी हाँ, आपने बिल्कुल सही सुना क्योंकि भारत में  ऐसे बहुत से लोन के प्रकार उपलब्ध हैं जिसका फायदा उठा कर आप अपनी जरूरतों को पूरा कर सकते हैं।

तो अगर आपको लोन की जरुरत हैं और आप जानना चाहते हैं की भारत में Loan Kitne Prakar Ke Hote Hain, तो इस आर्टिकल को पढ़कर आप इसबारे में पूरी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

लोन का एक बड़ा फायदा यह भी है कि आप आपातकालीन स्थिति में लोन लेकर अपने खर्चे कर सकते हैं और एक निर्धारित समय के बाद ब्याज के साथ उसे चुकता कर सकते हैं। लोन के अलग अलग प्रकारो को जानने के लिए इस आर्टिकल को निष्कर्ष तक पढ़े।

इसके साथ ही अगर आप यह जानना चाहते हैं की क्रेडिट कार्ड से बैंक अकाउंट में पैसे कैसे ट्रांसफर करे तो इस विषय पर लिखा आप हमारा यह आर्टिकल पढ़ सकते हैं।

Loan Kitne Prakar Ke Hote Hain

Loan Kya Hai?

लोन एक वित्तीय उपकरण है जो आपको एक निश्चित राशि उधार लेने की सुविधा देता है, जिसे एक निर्धारित समयावधि में ब्याज सहित वापस करना होता है। लोन का एक बड़ा फायदा यह है कि आप आपातकालीन स्थिति में लोन लेकर अपने खर्चे कर सकते हैं और एक निर्धारित समय के बाद उसे चुकता कर सकते हैं।

Loan Kitne Prakar Ke Hote Hain: Different Types Of Loan

लोन का प्रकार

विवरण

सुरक्षित लोन

इस लोन को लेने के लिए किसी संपत्ति या गारंटी की जरूरत होती है।

गोल्ड लोन

इस लोन को लेने के लिए सोने को गिरवी रखना होता है।

प्रतिभूतियों पर लोन (एलएएस)

इस लोन को लेने के लिए शेयर, म्यूचुअल फंड या अन्य प्रतिभूतियों को गिरवी रखा जाता है।

संपत्ति पर लोन (एलएपी)

इस लोन को लेने के लिए किसी अचल संपत्ति को गिरवी रखना होता है।

होम लोन

घर खरीदने या बनाने के लिए लिया जाने वाला लोन।

व्यवसाय लोन

व्यापार के विस्तार या अन्य व्यावसायिक उद्देश्यों के लिए लिया जाने वाला लोन।

असुरक्षित लोन

इस लोन को लेने के लिए किसी संपत्ति या गारंटी की जरूरत नहीं होती।

वाहन लोन

वाहन खरीदने के लिए लिया जाने वाला लोन।

पर्सनल लोन

व्यक्तिगत खर्चों के लिए लिया जाने वाला लोन।

1. सुरक्षित लोन

सुरक्षित लोन वह लोन होता है जिसे लेने के लिए आपको किसी संपत्ति या गारंटी को गिरवी रखना होता है। यह लोन आमतौर पर कम ब्याज दर पर मिलता है क्योंकि इसमें बैंकों के लिए जोखिम कम होता है। अगर आप समय पर लोन नहीं चुका पाते हैं, तो बैंक आपकी गिरवी रखी गई संपत्ति को जब्त कर सकता है।

2. गोल्ड लोन

गोल्ड लोन एक प्रकार का व्यक्तिगत ऋण होता है जिसमें व्यक्ति अपने सोने या चांदी के ज्वेलरी या गहनों को जमानत के रूप में देता है और बैंक, वित्तीय संस्था या गोल्ड लोन कंपनी से उस जमानत के आधार पर उधार लेता है। इस लोन की प्रमुख विशेषता यह है कि इसमें गहने पर अनुमानित मूल्य के कुछ प्रतिशत हिस्सा बैंक या संस्था द्वारा निर्धारित किया जाता है, जिसे 'लोन लीन' कहा जाता है। यदि व्यक्ति ऋण की समयावधि के अंत में ब्याज के साथ ऋण वापस नहीं करता है, तो जमानत के रूप में दी गई गहने संस्था द्वारा बेच दी जाती है।

3. प्रतिभूतियों पर लोन (एलएएस)

प्रतिभूतियों पर लोन यानी Loan Against Securities (LAS) वह लोन होता है जिसमें आपको अपने शेयर, म्यूचुअल फंड या अन्य प्रतिभूतियों को गिरवी रखकर लोन लेना होता है। इस प्रकार का लोन उन लोगों के लिए उपयुक्त होता है जो शेयर बाजार में निवेश करते हैं और अपनी प्रतिभूतियों के आधार पर लोन लेना चाहते हैं।

4. संपत्ति पर लोन (एलएपी)

संपत्ति पर लोन यानी Loan Against Property (LAP) वह लोन होता है जिसमें आपको अपनी अचल संपत्ति जैसे मकान, दुकान या प्लॉट को गिरवी रखकर लोन लेना होता है। यह लोन आमतौर पर बड़ी राशि में मिलता है और इसे लंबी अवधि के लिए लिया जा सकता है।

5. होम लोन

होम लोन एक प्रकार का ऋण होता है जिसका उपयोग घर (आवास) की खरीददारी या निर्माण के लिए किया जाता है। इस लोन के माध्यम से व्यक्ति एक निश्चित राशि को बैंक या वित्तीय संस्था से उधार लेता है, जिसे उसे ग्राहक निर्धारित समयावधि में ब्याज के साथ वापस करना होता है। होम लोन का मुख्य उद्देश्य व्यक्तियों को घर खरीदने में सहायता प्रदान करना है, जो अक्सर अपनी आर्थिक स्थिति के मुताबिक एक एकल भुगतान के रूप में लिया जा सकता है। यह लोन बैंकों, होम फाइनेंस कंपनियों या होम लोन ब्रोकर्स द्वारा प्रदान किया जा सकता है। 

6. व्यवसाय लोन

व्यवसाय लोन वह लोन होता है जो व्यापार के विस्तार, नई मशीनरी खरीदने या अन्य व्यावसायिक उद्देश्यों के लिए लिया जाता है। इस लोन को लेने के लिए आपको अपने व्यापार की वित्तीय स्थिति और योजनाओं को बैंक के सामने प्रस्तुत करना होता है।

7. असुरक्षित लोन

असुरक्षित लोन वह लोन होता है जिसे लेने के लिए आपको किसी संपत्ति या गारंटी को गिरवी रखने की जरूरत नहीं होती। यह लोन आमतौर पर उच्च ब्याज दर पर मिलता है क्योंकि इसमें बैंकों के लिए जोखिम अधिक होता है। पर्सनल लोन, क्रेडिट कार्ड लोन आदि असुरक्षित लोन के उदाहरण हैं।

8. वाहन लोन

वाहन लोन वह लोन होता है जिसे नया या पुराना वाहन खरीदने के लिए लिया जाता है। वाहन लोन एक प्रकार का ऋण होता है जिसका उपयोग वाहन की खरीददारी के लिए किया जाता है। इस लोन के माध्यम से व्यक्ति वाहन की कीमत का एक निश्चित हिस्सा अग्रिम देकर वाहन को खरीद सकता है, और फिर बाकी की राशि को निर्धारित समयावधि में अदा करता रहता है। यह ऋण बैंकों, वित्तीय संस्थाओं या वाहन निर्माताओं द्वारा प्रदान किया जाता है। वाहन लोन के माध्यम से लोग बड़े रकम के वाहन जैसे की कार, बाइक, ट्रक, या फिर यात्री वाहनों को आसानी से खरीद सकते हैं।

9. पर्सनल लोन

पर्सनल लोन एक अन्य प्रकार का व्यक्तिगत ऋण होता है जो व्यक्ति अपनी व्यक्तिगत आवश्यकताओं या अप्रत्याशित वित्तीय जरूरतों के लिए लेता है। इस ऋण को अक्सर किसी बैंक, वित्तीय संस्था या अन्य वित्तीय संस्था से प्राप्त किया जाता है, जिसे व्यक्ति निश्चित समयावधि के अंतर्गत उधार लेता है। पर्सनल लोन की मुख्य विशेषता यह है कि यह व्यक्तिगत उद्देश्यों के लिए लिया जाता है और इसकी कोई विशेष जमानत या गारंटी नहीं होती है। इसे अक्सर अनगिनत प्रकार में उपयोग किया जाता है, जैसे कि शिक्षा लोन, शादी का ऋण, आपातकालीन खर्चों के लिए ऋण, यात्रा लोन, और अन्य व्यक्तिगत आवश्यकताओं के लिए।

कुछ प्रमुख प्रकारों में पर्सनल लोन निम्नलिखित होते हैं:

  • व्यक्तिगत ऋण (Personal Loan): सामान्य व्यक्तिगत उद्देश्यों के लिए लिया जाने वाला ऋण, जैसे कि बड़े खर्चे, वित्तीय संघर्षों का सामना करना, या अनपेक्षित खर्चों के लिए।

  • शिक्षा लोन (Education Loan): इस ऋण को छात्रों के शैक्षिक खर्चों, जैसे कि कॉलेज शुल्क, यात्रा और आवास के लिए लिया जाता है।

  • शादी लोन (Wedding Loan): विवाह समारोह और अन्य संबंधित खर्चों के लिए लिया जाने वाला ऋण।

  • आपातकालीन ऋण (Emergency Loan): आकस्मिक स्वास्थ्य समस्याओं, घरेलू आपातकालिक स्थितियों या अन्य अप्रत्याशित घटनाओं के लिए लिया जाने वाला ऋण।

  • यात्रा लोन (Travel Loan): घूमने या विदेश यात्रा के खर्चों के लिए लिया जाने वाला ऋण।

निष्कर्ष

आशा करती हूँ की इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद आपको पता लग गया होगा की Loan Kitne Prakar Ke Hote Hain. आप बिना किसी पेपर वर्क के ऑनलाइन भी लोन ले सकते हैं और बाद में आसान किश्तों में इसे चूका सकते हैं। लेकिन इसके लिए पहले आप अच्छे से रिसर्च करे उसके बाद ही ऑनलाइन लोन के लिए अप्लाई करें। अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया हो तो इसे अपने प्रियजनों के साथ जरूर शेयर करे ताकि वो भी लोन का फायदा अपने जरुरत अनुसार उठा सकें।

FAQs

1. लोन क्या है?

ऊ. लोन एक वित्तीय उपकरण है जो आपको एक निश्चित राशि उधार लेने की सुविधा देता है, जिसे एक निर्धारित समयावधि में ब्याज सहित वापस करना होता है।

2. भारत में लोन के कितने प्रकार होते हैं?

ऊ. भारत में मुख्य रूप से 9 प्रकार के लोन होते हैं जैसे कि सुरक्षित लोन, गोल्ड लोन, होम लोन, पर्सनल लोन आदि।

3. होम लोन क्या है?

ऊ. होम लोन वह लोन होता है जिसे घर खरीदने, बनाने या रेनोवेशन के लिए लिया जाता है।

4. असुरक्षित लोन क्या है?

ऊ. असुरक्षित लोन वह लोन होता है जिसे लेने के लिए किसी संपत्ति या गारंटी की जरूरत नहीं होती।

5. क्या लोन ऑनलाइन लिया जा सकता है?

ऊ. हां, आप बिना किसी पेपर वर्क के ऑनलाइन भी लोन ले सकते हैं और बाद में आसान किश्तों में इसे चुका सकते हैं।

About Author

author

Ankita

Content Writer

I am eager to assist individuals with understanding different aspects of life through my content. The content that I write has helped many people grow their skills and knowledge. I believe I have a strong relationship with the written words as I love elaborating on minor details with surplus data

Copyright 2010-2022. FreeKaaMaal.com. All Rights Reserved. All content, trademarks and logos are copyright of their respective owners.

Disclaimer: FreeKaaMaal.com is community platform where our users find and submit deals from various website across the world, we do not guarantee, approve or endorse the information or products available at these sites, nor does a link indicate any association with or endorsement by the linked site to FreeKaaMaal.com. Readers are requested to be cautious while shopping at newly launched and non-trusted e-commerce sites.

DMCA.com Protection Status